शिक्षण एवं प्रशिक्षण

वर्तमान में छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी संघ द्वारा दो सहकारी प्रशिक्षण केंद्र क्रमश: बिलासपुर एवं रायपुर में संचालित है | रायपुर में सहकारी प्रशिक्षण केंद्र संचालित करने की स्वीकृति छ.ग. शासन  द्वारा वर्ष 2011-12 में मिली एवं वर्ष 2011-12 से रायपुर प्रशिक्षण केंद्र ने कार्य करना प्रारंभ कर दिया है | इन केन्द्रों पर दो प्रकार के सत्र आयोजित होते है..

  1. नियमित सत्र : सहकारी प्रबंध पत्रोंपाधि (16 सप्ताह)
  2. अल्पावधि सत्र : 1 दिन से 15 दिन तक की अवधि
  • प्राथमिक सहकारी कृषि एवं साख समितियों के लिए समरूप लेखन प्रणाली ( 3 दिवसीय )
  • शिक्षित बेरोजगारों एवं स्व सहायता समूहों के लिए कौशल विकास योजना ( 3 दिवसीय )
  • सहकारी एवं साख समितियों के निर्देशकों के लिए नेतृत्व विकास ( 4 दिवसीय )
  • संग्रहण एवं भंडारण प्रबंधन ( 3 दिवसीय )
  • सहकारी और साख समितियों के लिए कानून , प्रबंधन एवं नेतृत्व ( 3 दिवसीय )
  • डेयरी टेक्नोलॉजी के निर्देशक मंडल एवं अध्यक्षों के लिए लागत प्रभावशीलता एवं दक्षता निर्माण के लिए रणनीति ( 3 दिवसीय )
  • सी.आर.एम. एवं के.वाई.सी. मापदंड ,उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम ( 3 दिवसीय )
  • सहकारी क्षेत्रों के लिए ग्राहक आधारित व्यापार रणनीति ( 3 दिवसीय )
Scroll to top